bharatyogi

Science नें केवल वो ही पाया हे जो पहले से ही इश्वर में विधमान था *paramahansa yogananda*
Special:- दोस्तों यंहा जो कुछ भी लिखा गया हे वो
paramahansa yogananda जी द्वारा दिये गए प्रवचन में से हे जिसे में अपने इस blog पर लिख रहा हूँ बस एक कोसिस हे की ज्यादा से ज्यादा लोग अध्यात्म में आकर शांत और सुखी जीवन जी सकें और जान सकें एक सच्चे योगी के बारे में

तो पढ़िए लेख का पहला भाग

Science नें न तो किसी चीज की सृष्टी की हे और न ही किसी चीज का अविष्कार किया हे केवल वो ही पाया हे जो पहले से ही इश्वर में विधमान था यदि हम अपना मन केन्द्रित करें तो इसी परकार उन रहस्यों को भी सुलझा सकते हें जिनके बारे में मैं आज बोलने जारहा हूँ

Visit and enjoy the site bharatyogi, belonging to category Personal

in
bharatyogi.net
0.0/5 for 0 rate
0
21-04-2012

Related sites bharatyogi

Cincin Teras Kayu dan Batu
Ready made ring to be owned by anyone who...
urShadow's Blog
This blog contains posts about Islam (Articles,...
Back2Brooklyn
Brooklyn nostalgia
"seth lang"
A look into my work life, fatherhood, my djing...
Feeling Of Life
A blog about what I've been through or what I...
 
Powered by Blogerzoom © 2009 - 2015    Generated in 0.069 Queries: 7    Contact    Newsletter | FreeGamersCity | GetWebExposure | MegaGamesPlace | GrabUrlExplore | ShopMoviesCity | BestMusicHub | FindTripSpot | GainSeoStats | GainUrlExplore